कृषि

Fasal Beema: खरीफ फसलों का बीमा शुरू, किसान इस तारीख तक करा सकते हैं फसल का बीमा

Sandeep Gusaiana
13 Jun 2022 11:23 AM GMT
Fasal Beema: खरीफ फसलों का बीमा शुरू, किसान इस तारीख तक करा सकते हैं फसल का बीमा
x
हरियाणा सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2022 (PMFBY) के तहत खरीफ फसलों की पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। संबंधित किसान अपनी खरीफ सीजन की अधिसूचित फसलों का बीमा (Crop Insurance) पंजीकरण 31 जुलाई 2022 तक करवा सकते हैं।

हरियाणा सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2022 (PMFBY) के तहत खरीफ फसलों की पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। संबंधित किसान अपनी खरीफ सीजन की अधिसूचित फसलों का बीमा (Crop Insurance) पंजीकरण 31 जुलाई 2022 तक करवा सकते हैं।

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उप-निदेशक डॉ विनोद कुमार फोगाट ने आज जानकारी देते हुए बताया कि योजना के तहत खरीफ फसलों में धान, कपास, मक्का, बाजरा तथा मूंग फसलों के लिए पंजीकरण किया जा रहा है।

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उप-निदेशकडॉ विनोद कुमार फोगाट के अनुसार हरियाणा राज्य सरकार ने राज्य के किसानों के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए इस बार 10 फसलों का चयन किया है।

इस वर्ष के खरीफ तथा रबी सीजन के लिए फसलों का चयन के साथ ही प्रीमियम राशि दर एवं नुकसान होने पर दी जाने वाली क्लेम राशि का निर्धारण कर दिया है।

राज्य में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत जिन 10 फसलों को शामिल किया गया है उनमे 5 फसलें खरीफ की तथा 5 फसलें रबी सीजन की है। खरीफ सीजन के लिए धान, मक्का, बाजरा, मूंग व कपास तथा रबी सीजन के लिए गेहूं, जौ, चना, सरसों और सूरजमुखी फसलों का बीमा किया जाएगा।

किसान को फसल बीमा करवाने के लिए प्रति एकड़ कितनी राशि देनी होगी ?

सरकार ने वर्ष 2022 के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ( pmfby.gov.in ) के लिए किसानों के लिए प्रति एकड़ प्रीमियम राशि भी तय कर दी है। किसानों को खरीफ सीजन की फसलों के लिए 2 प्रतिशत तथा रबी फसलों के लिए 1.5 प्रतिशत का प्रीमियम देना होता है।

खरीफ फसलों का बीमा सीजन 2022:- प्रति एकड़ कितना देना होगा प्रीमियम

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए हरियाणा के किसानों द्वारा वहन की जाने वाली प्रीमियम की राशि प्रति एकड़ 2022 के लिए इस प्रकार निर्धारित की गई है..

धान के लिए प्रति एकड़ प्रीमियम की राशि 741 रुपए

मक्का के लिए प्रति एकड़ प्रीमियम की राशि 370.51 रुपए

बाजरा के लिए प्रति एकड़ प्रीमियम की राशि 348.70 रुपए

मूंग के लिए प्रति एकड़ प्रीमियम की राशि रुपये और

कपास के लिए 1798 रुपए प्रति एकड़ की दर से प्रीमियम निर्धारित किया गया है।

रबी सीजन 2022:- प्रति एकड़ कितना देना

रबी सीजन 2022 में हरियाणा के किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत अपनी फसलों का बीमा करवाने के लिए प्रति एकड़ प्रीमियम की जो राशि देनी होगी वो इस प्रकार निर्धारित की गई है..

गेहूं के लिए प्रति एकड़ प्रीमियम 425 रुपए

जौ के लिए प्रीमियम 277.88 रुपए प्रति एकड़

चना के लिए प्रीमियम 212.50 रुपए प्रति एकड़

सरसों के लिए प्रीमियम 286.6 रुपए प्रति एकड़ और

सूरजमुखी के लिए प्रीमियम राशि 277.88 रुपए प्रति एकड़ की दर से निर्धारित की गई है ।

फसल बीमा योजना स्वैच्छिक

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत किसानों को प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान की भरपाई की जाती है। प्राकृतिक आपदा में जलभराव, ओलावृष्टि आदि को शामिल किया गया है।

इसके साथ-साथ अगर किसानों की बीमित फसल में पैदावार कम होती हैं, तो उस संबंधित गांवों के सभी बीमित किसानों को क्लेम दिया जाता है। किसानों की सुविधा के लिए फसल बीमा योजना को स्वैच्छिक रखा गया है।

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उप-निदेशक डॉ विनोद कुमार फोगाट ने फसल बीमा की जानकारी सांझा करते हुए कहा कि अगर कोई किसान अपनी फसल का बीमा नहीं करवाना चाहता है, तो उसे अंतिम तारीख से एक हफ्ते पहले संबंधित बैंक में जाकर लिखित में जानकारी देनी होगी।

आगे उन्होंने कहा की यदि कोई किसान बीमित फसल में बदलाव करवाना चाहता है, तो अंतिम तिथि से दो दिन पहले अपने बैंक को सूचित करना होगा।

फसल बीमा योजना से संबंधित शिकायत के लिए इस नंबर पर करें कॉल

सरकार द्वारा इस योजना को सुचारू रूप से चलाने के लिए जिला स्तर पर परियोजना अधिकारी व सर्वेयर नियुक्त किए गए हैं, जो केवल प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का ही कार्य देखते हैं।

स्कीम से जुड़ी शिकायत के लिए राज्य के कृषि एवं कल्याण विभाग द्वारा जारी टोल फ्री नंबर 18001802117 पर अथवा अपनी बैंक शाखा या बीमा कंपनी से संपर्क किया जा सकता है।

Next Story