कृषि

हरियाणा में आज से फिर शुरू हुई गेहूं की सरकारी खरीद, जाने क्या मिल रहा मंडियों में भाव

Mukesh Gusaiana
16 May 2022 2:18 AM GMT
हरियाणा में आज से फिर शुरू हुई गेहूं की सरकारी खरीद, जाने क्या मिल रहा मंडियों में भाव
x
केंद्र के निर्णय के अनुरूप हरियाणा में 10 दिनों के लिए दोबारा गेहूं की खरीद की जाएगी। यह 16 से 25 मई तक चलेगी। सीएम ने कहा कि जो किसान अपना गेहूं बेचना चाहते हैं, वह मंडियों में आ सकते हैं

मुकेश गुसाईंना (H1INDIA.COM) हरियाणा में सोमवार से गेहूं की खरीद फिर शुरू होगी। गेहूं के निर्यात पर केंद्र द्वारा रोक लगाए जाने के एक दिन बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि प्रत्येक गरीब व्यक्ति को अनाज मिले, इसके लिए केंद्र के निर्णय के अनुरूप हरियाणा में 10 दिनों के लिए दोबारा गेहूं की खरीद की जाएगी। यह 16 से 25 मई तक चलेगी। सीएम ने कहा कि जो किसान अपना गेहूं बेचना चाहते हैं, वह मंडियों में आ सकते हैं। खट्टर ने कहा कि इस बार गेहूं का उत्पादन कम हुआ है और सीजन में निर्यात भी किया गया है। देश में गेहूं का संकट न आये, इसे देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसके निर्यात पर रोक लगाई है।

मुख्यमंत्री रविवार को यहां नयी अनाज मंडी में हरियाणा प्रगति रैली को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने प्लाईवुड उद्योग को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश में पहला फॉरेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट बनाने की घोषणा भी की, जिस पर 50 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इससे पहले उन्होंने लगभग 334 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने साढौरा के 10 बेड के अस्पताल को 50 बेड का करने की घोषणा की। इसके अलावा, किशनपुरा गांव में 14 एकड़ जमीन पर नया कॉलेज भवन बनाने, फारुखपुर स्कूल को मॉडल संस्कृति स्कूल बनाने, जिला यमुनानगर के चारों विधानसभा क्षेत्रों के लिए विभिन्न विकास कार्यों के लिए कुल 680 करोड़ रुपये की घोषणा भी उन्होंने की।

इस मौके पर शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा कि राम राज्य में किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं किया जाता और सबको समान मानकर सबका विकास किया जाता है। उन्होंने कहा कि पहले पॉपुलर का मूल्य 250 से 300 रुपये प्रति क्विंटल था लेकिन वर्तमान सरकार ने भ्रष्टाचार खत्म किया, जिसके परिणामस्वरूप आज पॉपुलर का मूल्य 1400 रुपये प्रति क्विंटल है, जिससे लकड़ी की खेती करने वाले किसानों को बड़ा लाभ मिल रहा है। इस अवसर पर सांसद रतन लाल कटारिया, विधायक घनश्यामदास अरोड़ा, सीएम के राजनीतिक सलाहकार कृष्ण बेदी, मेयर मदन चौहान, भाजपा जिला अध्यक्ष राजेश सपरा, पूर्व मंत्री कर्णदेव काम्बोज, पूर्व विधायक बलवंत सिंह, हरियाणा समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष रोजी मलिक, सरस्वती हेरिटेज बोर्ड के उपाध्यक्ष धूमन सिंह किरमिच, मीडिया प्रभारी कपिल मुनीष गर्ग, भारत भूषण जुयाल, प्रदेश संगठन मंत्री रविन्द्र राजू, पूर्व चेयरमैन रामेश्वर चौहान मौजूद रहे।

सीएम बोले- भ्रष्टाचार का काल मनोहर लाल

खट्टर ने कहा, 'भ्रष्टाचार करने वाला चाहे कोई नेता हो, अधिकारी हो, कर्मचारी हो या कोई व्यक्ति, उसे बख्शा नहीं जाएगा, क्योंकि हरियाणा में भ्रष्टाचार का काल है मनोहर लाल।' उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों की आदत थी कि वे भ्रष्टाचार करने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं करते थे और आज कहते हैं कि भ्रष्टाचार बढ़ा है, जबकि हमने स्वयं भ्रष्टाचार करने वालों को पकड़ा है।

हर ब्लॉक में औद्योगिक क्लस्टर की योजना

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर ब्लाॅक में 50 से 100 एकड़ में एक औद्योगिक क्लस्टर बनाने की योजना है। यमुनानगर के पांचों खंडों में पांच क्लस्टर बनाए जाएंगे। चंडीगढ़ के आसपास के जिलों- पंचकूला, यमुनानगर, अम्बाला, कुरुक्षेत्र में गुरुग्राम की तर्ज पर औद्योगिक क्षेत्र विकसित किए जाएंगे। लोहगढ़ में बाबा बंदा सिंह बहादुर का विशाल स्मारक बनाने की योजना बनाई गई है।

निर्यात आरसी जारी करने का निर्देश

नयी दिल्ली (एजेंसी) :

विदेश व्यापार महानिदेशालय ने अपने क्षेत्रीय अधिकारियों को गेहूं निर्यातकों को अनुबंधों का पंजीकरण (आरसी) जारी करने का निर्देश दिया है। इससे ये निर्यातक अपने अनुबंधों को पूरा कर पाएंगे। यह पंजीकरण हालांकि, उन निर्यातकों को जारी किया जाएगा, जिनके पास ऐसे साख पत्र (एलओसी) हैं, जिन्हें रद्द नहीं किया जा सकता है।

Next Story