कृषि

महंगाई की मार के बीच किसानों को राहत! मात्र 266 रुपये में मिलेगी 4,000 रुपये की यूरिया, जानिए कैसे ?

Mukesh Gusaiana
6 April 2022 2:41 AM GMT
महंगाई की मार के बीच किसानों को राहत! मात्र 266 रुपये में मिलेगी 4,000 रुपये की यूरिया, जानिए कैसे ?
x
बीते दिनों किसानों पर महंगाई की मार चौतरफा पड़ी है. एक ओर जहां पहले से ही डीजल के दाम बढ़ने से किसान त्रस्त थे,

बीते दिनों किसानों पर महंगाई की मार चौतरफा पड़ी है. एक ओर जहां पहले से ही डीजल के दाम बढ़ने से किसान त्रस्त थे, तो वहीं किसानों के लिए खाद के बढ़े दाम और भी परेशान करने लगे हैं, लेकिन इस बीच मोदी सरकार अपनी प्राथमिकता को दिखाते हुए किसानों के लिए सस्ते खाद मुहैया कराने की तैयारी में हैं.

बता दें कि बीते दिन देश की प्रमुख सहकारी संस्था Indian Farmers Fertiliser Cooperative(IFFCO) लिमिटेड ने डाय अमोनियम फॉस्फेट (Diammonium phosphate,DAP) और NPK की कीमतें बढ़ा दी है. किसान पहले से ही जहां डीजल के दाम बढ़ने से परेशान थे, अब उन्हें अपनी फसलों के लिए खाद भी महंगे दामों पर खरीदना पड़ रहा है. इन दोनों खादों के दाम बढ़ने से अब कृषि लागत में भी बढ़ोतरी देखने को मिलेगी. लेकिन इस बीच मोदी सरकार ने इन्हें राहत दी है.

मोदी सरकार सस्ते दामों में करवायेगी खाद की आपूर्ति

एक शीर्ष सरकारी सूत्रों के मुताबिक, केंद्र सरकार ने मई से शुरू होने वाले खरीफ बुआई सत्र के लिए पहले से ही 30 लाख टन DAP और 70 लाख टन यूरिया समेत उर्वरक की पर्याप्त व्यवस्था कर ली है.

सूत्रों ने कहा कि सरकार ने पूरी तरीके से खरीफ सत्र की जरुरतों को पूरा करने के लिए तैयारी कर ली है और किसानों की जरुरत के मुताबिक आगे और खाद खरीदे जायेंगे. उन्होंने कहा कि सरकार के लिए किसानों की प्राथमिकता पहले है.

सरकार आधे दाम प दे रही है खाद

अधिकारियों के मुताबिक, जहां अंतरराष्ट्रीय बाजार में यूरिया के दाम आज 50 किलो बोरी की कीमत 4,000 रुपये प्रति बोरी हो गई है, तो वहीं घरेलू बाजार में यूरिया के दाम आज 266 रुपये प्रति 50 किलो बोरी हम उपलब्ध करा रहे हैं.

वहीं घरेलू बाजार में डीएपी की कीमत 1,350 रुपये प्रति बोरी है, जबकि इसकी अंतरराष्ट्रीय कीमत बढ़कर 4,200 रुपये प्रति बोरी हो गई है, लेकिन सरकार इसे घरेलू बाजार में आधे दाम पर बेच रही है.


Next Story