कृषि

PM Kisan Yojana: खत्म होने वाली है डेडलाइन, सम्मान निधि की 12वीं किस्त पाने के लिए किसान तुरंत करें ये काम

Sandeep Beni
19 July 2022 2:55 AM GMT
PM Kisan Yojana: खत्म होने वाली है डेडलाइन, सम्मान निधि की 12वीं किस्त पाने के लिए किसान तुरंत करें ये काम
x
PM Kisan Samman Nidhi: पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो जल्द से जल्द ई-केवाईसी करा लें. अगर इस बाबत किसी भी तरह की लापरवाही बरतते हैं तो 12वीं किस्त से आप वंचित रह सकते हैं.

PM Kisan Yojana: किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार की तरफ से लगातार कई तरह के प्रयास किए जा रहे हैं. इसी कड़ी में कई योजनाएं भी लॉन्च की गई हैं. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को भी कुछ इसी उद्देश्य के साथ लॉन्च किया गया था.

इस योजना के तहत किसानों को सालाना 6 हजार रुपये दिए जाते हैं. ये राशि किसानों को तीन किस्तों में 2-2 हजार रुपये करके भेजी जाती है. अब तक 10 करोड़ से ज्यादा किसानों के खाते में 11 किस्तें तक भेजी जा चुकी हैं. किसान अब 12वीं किस्त का इंतजार कर रहे हैं. लेटेस्ट अपडेट के अनुसार, अगस्त के अंतिम सप्ताह या सितंबर के शुरुआती दिनों में राशि किसानों के खाते में भेजी जा सकती है.

ई-केवाईसी अनिवार्य

अगर आप पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो जल्द से जल्द ई-केवाईसी करा लें. इसमें अगर किसी भी तरह की लापरवाही बरतते हैं तो 12वीं किस्त से आप वंचित रह सकते हैं. ई-केवाईसी कराने की आखिरी तारीख बेहद नजदीक है. ऐसे में सरकार ने किसानों को 31 जुलाई तक इस प्रकिया को पूरा करने का निर्देश दिया गया है.

कैसे कराएं ई-केवाईसी?

  • - सबसे पहले पीएम किसान योजना की वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं.
  • - यहां आपको फार्मर कॉर्नर दिखाई देगा,जहां पर ई-केवाईसी टैब पर क्लिक करें.
  • - अब एक नया पेज खुलेगा, जहां पर आधार नंबर को डालें और सर्च टैब पर क्लिक करें.
  • - अब आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा.
  • - ओटीपी सब्मिट पर क्लिक करें.
  • - आधार रजिस्टर्ड मोबाइल ओटीपी डालें और आपका ई-केवाईसी हो जाएगा.

अवैध लाभार्थी वापस लौटा दें योजना के पैसे

हाल के महीनों में पीएम किसान योजना से जुड़े कई गड़बड़ियों के मामले आए हैं. कई मामले ऐसे आए हैं, जिनमें अवैध लाभार्थियों द्वारा गलत तरीके से इस योजना का लाभ उठा लिया गया. अब सरकार द्वारा ऐसे किसानों को नोटिस भेजा जा रहा है, जिसमें किस्त के पैसे वापस लौटाने के लिए कहा जा रहा है

Next Story