खेल

Thomas Cup Badminton: बैडमिंटन में लहराया तिरंगा, लक्ष्य एंड टीम का कमाल, भारत ने पहली बार जीता थॉमस कप

Mukesh Gusaiana
15 May 2022 10:14 AM GMT
Thomas Cup Badminton: बैडमिंटन में लहराया तिरंगा, लक्ष्य एंड टीम का कमाल, भारत ने पहली बार जीता थॉमस कप
x
भारतीय बैडमिंटन टीम ने पहली बार थॉमस कप खिताब जीतकर इतिहास रच दिया. फाइनल में 14 बार की चैम्पियन इंडोनेशिया को 3-0 से क्लीन स्वीप किया, जानिए कौन हैं इस ऐतिहासिक जीत के हीरो...

थॉमस कप बैडमिंटन टूर्नामेंट में भारत ने इतिहास रच दिया है. टीम ने पहली बार फाइनल खिताब जीतकर गोल्ड मेडल जीत लिया है. टीम इंडिया ने फाइनल में इंडोनेशिया को 3-0 से क्लीन स्वीप किया. पहले मैच में लक्ष्य सेन ने एंथोनी सिनिसुका को 8-21, 21-17, 21-16 से हराया. दूसरा मुकाबला डबल्स में सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने 18-21, 23-21, 21-19 से जीत लिया. तीसरा मैच सिंगल्स का रहा, जिसमें किदांबी श्रीकांत ने जोनातन क्रिस्टी को 21-15, 23-21 से शिकस्त दी.

भारतीय टीम ने मलेशिया और डेनमार्क जैसी टीम को हराकर पहली बार फाइनल में जगह बनाई थी, ऐसे में टीम का आत्मविश्वास काफी मजबूत रहा. अब फाइनल में 14 बार की रिकॉर्ड चैम्पियन इंडोनेशिया को शिकस्त देकर इतिहास रच दिया है.

किदांबी ने तीसरा मैच जीत, खिताब पक्का किया

तीसरा मैच सिंगल्स में खेला गया था. इसमें किदांबी श्रीकांत और जोनातन क्रिस्टी आमने-सामने थे. मैच में शुरुआत से ही किदांबी ने अपना दबदबा बनाए रखा और क्रिस्टी को किसी भी तरह से मैच में मौका नहीं दिया. किंदाबी ने सीधे सेटों में क्रिस्टी को 21-15, 23-21 से शिकस्त दी. किदांबी की इस जीत ने टीम इंडिया को फाइनल में 3-0 से विजयी बनाया.

सात्विक-चिराग की जोड़ी ने दूसरा मैच जीता

दूसरा मैच डबल्स में खेला गया, जिसमें भारतीय जोड़ी सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी का सामना केविन संजाया और मोहम्मद अहसान की जोड़ी से हुआ. मैच काफी रोमांचक रहा. इसमें पहला सेट इंडोनेशियन जोड़ी ने 21-18 से जीता. जबकि दूसरे सेट में भारतीय जोड़ी ने बाजी पलट दी और 23-21 से सेट जीतकर मैच बराबर किया. इसके बाद तीसरा सेट भी भारतीय जोड़ी ने 21-19 के अंतर से जीत लिया. इसी के भारत ने मैच में 2-0 की बढ़त बनाई.

पहला मैच: लक्ष्य ने एंथोनी को हराया

लक्ष्य और एंथोनी सिनिसुका के बीच रोमांचक मुकाबला चला. पहला सेट एंथोनी ने 21-8 से अपने नाम किया, तो दूसरा सेट 21-17 से जीतकर लक्ष्य ने मैच बराबर कर दिया. तीसरे सेट 21-16 से जीतकर लक्ष्य ने मैच अपने नाम कर लिया.

इंडोनेशिया का इस टूर्नामेंट में रिकॉर्ड शानदार रहा है और वह मौजूदा टूर्नामेंट में अब तक अजेय रही है. जबकि भारतीय टीम को एकमात्र शिकस्त ग्रुप-स्टेज में चीनी ताइपे के खिलाफ मिली थी. पर अब फाइनल में भारत ने इंडोनेशिया को करारी शिकस्त दी.

फाइनल मैच के लिए भारतीय स्क्वॉड-

सिंगल्स: लक्ष्य सेन, किदांबी श्रीकांत, एचएस प्रणय, प्रियांशु राजावती.

डबल्स: सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी-चिराग शेट्टी, विष्णुवर्धन गौड़ पंजाला-कृष्ण प्रसाद गारगा, एमआर अर्जुन-ध्रुव कपिला.

Next Story