Top Stories

Raksha Bandhan 2022: 12 अगस्त को मना रहे हैं राखी तो समय का रखें ख्याल, जरा-सी देरी पड़ सकती है भारी; जानें वजह

Sandeep Beni
6 Aug 2022 9:43 AM GMT
Raksha Bandhan 2022: 12 अगस्त को मना रहे हैं राखी तो समय का रखें ख्याल, जरा-सी देरी पड़ सकती है भारी; जानें वजह
x
Raksha Bandhan 12 August Time 2022: रक्षाबंधन का पर्व सावन माह की पूर्णिमा तिथि को मनाया जाता है. इस बार सावन पूर्णिमा 11 अगस्त की बताई जा रही है. लेकिन लोगों को 11 अगस्त और 12 अगस्त को लेकर कंफ्यूजन बना हुआ है. अगर आप भी 12 अगस्त को राखी बांधने की सोच रहे हैं, तो ये खबर जरूर पढ़ लें.

Panchak Starts From 12 August 2022: हिंदू धर्म में कोई भी त्योहार तिथि के आधार पर निर्धारित होता है. रक्षाबंधन का त्योहर सावन पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है. इस बार पंचाग के अनुसार पूर्णिमा तिथि 11 अगस्त गुरुवार सुबह 10 बजकर 38 मिनट से शुरू हो रही है और अगले दिन 12 अगस्त को सुबह 07 बजकर 3 मिनट तक रहेगी. इतना ही नहीं, ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 11 अगस्त को पूरा दिन भद्र का साया होने का कारण राखी बांधने के लिए सिर्फ एक घंटे का ही शुभ मुहूर्त बताया जा रहा है.

ज्योतिषाचार्यों का कहना है कि भद्र काल में शुभ कार्य नहीं किए जाते हैं. ऐसे में 11 अगस्त की रात 8 बजकर 51 मिनट के बाद राखी बांधी जा सकती है. लेकिन शास्त्रों के अनुसार कोई भी शुभ कार्य रात्रि में नहीं किया जाता,

इसलिए कुछ लोग 12 अगस्त को भाई को शुभ मुहूर्त में राखी बांधेंगे. लेकिन बता दें कि 12 अगस्त को राखी बांधने का शुभ मुहूर्त सुबह 05 बजकर 52 मिनट से शुरू होकर 7 बजकर 05 मिनट का ही है.

12 अगस्त से लग रहे हैं पंचक

हिंदू पंचाग के अनुसार अगर आप 12 अगस्त को राखी बांधने की सोच रहे हैं, इसमें शुभ मुहूर्त का ध्यान अवश्य रखें. बता दें कि 12 अगस्त, शुक्रवार को दोपहर 02 बजकर 49 मिनट से पंचक लग रहे हैं, जो कि 16 अगस्त, मंगलवार रात्रि 09 बजकर 07 मिनट तक रहने वाले हैं.

पंचक में नहीं होते शुभ कार्य

शास्त्रों में कहा गया है कि पंचक में शुभ कार्य नहीं करने चाहिए. कहते है कि पंचक में किए गए कार्यों का प्रभाव 5 गुना बढ़ जाता है. ऐसे में अगर शुभ कार्य के दौरान जरा सी भी चूक हो जाए, तो उसका बुरा प्रभाव सहना पड़ सकता है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चंद्रमा के कुंभ और मीन राशि में होने से पंचक लगता है.

Next Story