मौसम की जानकारी

Haryana Monsoon Update: मानसून की एंट्री के बाद पहली बार हिसार में जोरदार बारिश, जानिये ताज़ा मौसम का हाल

Rakesh Gusaiana
14 July 2022 6:23 AM GMT
Haryana Monsoon Update: मानसून की एंट्री के बाद पहली बार हिसार में जोरदार बारिश, जानिये ताज़ा मौसम का हाल
x
मानसून टर्फ सामान्य स्थिति से दक्षिण की तरफ बना हुआ है तथा जैसलमेर कोटा गुना दमोह से होता हुआ बंगाल की खाड़ी तक बना हुआ है। इससे बंगाल की खाड़ी की तरफ से मानसूनी हवाएं आने की संभावना से वातावरण में नमी की अधिकता है।

Haryana Weather Update: हरियाणा में मानसून आगमन के बाद पहली बार हिसार में जोरदार बारिश हुई है। हालांकि पूरे जिले में यह नहीं हुई में शहरी क्षेत्र में प्रभाव ज्‍यादा रहा है।

हालात ऐसे हो गए कि सड़कों पर जलभराव हो गया। वहीं गर्मी से भी राहत मिली है। इससे पहले करीब 15 दिनों से बारिश का इंतजार हो रहा था। हिसार के अलावा अन्‍य जिलों में भी बारिश हुई है। सावन के पहले सोमवार को ही बादल छाए और बारिश भी आ गई।

अब तक मानसून से उम्‍मीद के अनुरूप बारिश नहीं हुई थी। अभी भी बहुत सी जगहों पर बारिश का इंतजार है। हिसार के बालसमंद क्षेत्र में अभी तक एक बार भी अच्‍छी बारिश इस सत्र में नहीं हुई है। खेत खाली पड़े हैं तो फसलों की बिजाई भी सही से नहीं हो सकी है। वहीं कुछ जिले ऐसे हैं जहां ज्‍यादा बारिश से फसलों पर प्रतिकूल प्रभाव देखने को मिल रहा है।

बारिश का महीने माने जान वाले आषाढ़ से भी निराशा ही मिली है। ऐसा नहीं कि आषाढ़ में बादल नहीं छाए। घिर-घिर आए और छाए बादल। लेकिन बरसात अपेक्षा के अनुरूप नहीं हुई। आज से सावन शुरू हो गया है और उम्‍मीद है सावन में बादल बूंदों में ढलेंगे व जमकर बारिश होगी।

अब त‍क हिसार और करनाल सहित प्रदेश के आधे से अधिक जिलों में सामान्य से भी बारिश का ग्राफ नीचे रहा है। बारिश की तस्वीर का स्पष्ट रुख बताता है कि इस पूरे सीजन में चरखी दादरी, झज्जर, जींद, कैथल, कुरुक्षेत्र, महेंद्रगढ़, रोहतक, सिरसा, पंचकूला और पानीपत में ही सामान्य से अधिक वर्षा हुई। अब सावन का महीना शुरू हो रहा है तो मौसम वैज्ञानिक भी अच्छी बारिश की अपेक्षा कर रहे हैं। देखना ये होगा कि यह अनुमान सही ज्‍यादा है या गलत रहता है।

आज बने रहेंगे बारिश के आसार

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डा. मदन खिचड़ बताते हैं कि मानसून टर्फ सामान्य स्थिति से दक्षिण की तरफ बना हुआ है तथा जैसलमेर कोटा, गुना, दमोह से होता हुआ बंगाल की खाड़ी तक बना हुआ है। इससे बंगाल की खाड़ी की तरफ से मानसूनी हवाएं आने की संभावना से वातावरण में नमी की अधिकता है।

इस कारण मंगलवार को कुछ एक स्थानों पर छिटपुट वर्षा दर्ज की गई। अब 14 जुलाई को हवाओं व गरज- चमक के साथ राज्य के ज्यादातर क्षेत्रों में कहीं कहीं हल्की से मध्यम वर्षा की संभावना बन रही है। इस दौरान उत्तर हरियाणा के कुछ एक स्थानों पर तेज वर्षा होने की भी संभावना है।

Next Story