मौसम की जानकारी

Monsoon 2022: मौसम विभाग ने जारी किया मानसून का अनुमान, जानिये कब और कहा होगी बारिश

Senti Gusaiana
31 May 2022 1:18 PM GMT
Monsoon 2022: मौसम विभाग ने जारी किया मानसून का अनुमान, जानिये कब और कहा होगी बारिश
x
Monsoon 2022: आइएमडी ने अप्रैल में देश में सामान्य बारिश का अनुमान लगाया था, जिसके दीर्घकालिक औसत के 99 प्रतिशत रहने की संभावना थी।

Monsoon 2022: मौसम विज्ञान विभाग ने मंगलवार को बताया कि इस साल पूर्व में जारी अनुमान से ज्यादा बारिश होने की संभावना है। आइएमडी ने अप्रैल में देश में सामान्य बारिश का अनुमान लगाया था, जिसके दीर्घकालिक औसत के 99 प्रतिशत रहने की संभावना थी। आइएमडी ने यह अनुमान केरल में मानसून की सामान्य तिथि से तीन दिन पहले आमद को देखते हुए जारी किया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने संवाददाताओं से कहा, "इस मानसून सीजन दीर्घकालिक औसत के 103 प्रतिशत बारिश का अनुमान है। इस मानसून सीजन देश में अच्छी बारिश की संभावनाएं बढ़ गई हैं। खेतों में पानी भरने और जलभृतों और जलाशयों को रिचार्ज करने के अलावा, मानसून के मौसम में नियमित बारिश भीषण गर्मी से राहत दिला सकती है।

29 मई को केरल पहुंचा मानसून

केरल में सामान्य तौर पर एक जून को मानसून दस्तक देता है, लेकिन इस बार 29 मई को ही पहुंच चुका है। आइएमडी 96-104 प्रतिशत दीर्घकालिक औसत बारिश को सामान्य श्रेणी में रखता है। यह जून से शुरू होने वाले चार महीने के वर्षा ऋतु के 50 वर्षों का औसत (87 सेमी) होता है।

मौजूदा मानसून सीजन के लिए बारिश का हालिया दीर्घकालिक अनुमान जारी करते हुए महापात्र ने कहा, "देश के ज्यादातर हिस्सों में अच्छी बारिश होने का अनुमान है।" उन्होंने कहा कि मध्य व प्रायद्वीपीय भारत में दीर्घकालिक औसत के सापेक्ष 106 प्रतिशत बारिश का अनुमान है, जबकि पूर्वोत्तर क्षेत्र में सामान्य से कम बारिश की आशंका है। मानसून सामान्य समय से दो दिन पहले रविवार को केरल राज्य के तट पर पहुंच गया।

यहां मानसून की बारिश औसत रहने की संभावना

मध्य क्षेत्र में मानसून की बारिश औसत रहने की संभावना है, जहां सोयाबीन और कपास जैसी फसलें उगाई जाती हैं। आईएमडी ने कहा कि दक्षिण में शीर्ष रबर उत्पादक राज्य केरल, पूर्वोत्तर में चाय उत्पादक असम और पूर्व में चावल उगाने वाले पश्चिम बंगाल में सामान्य से कम बारिश हो सकती है। भारत की 2.7 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था में खेती का योगदान लगभग 15% है, जबकि 1.3 बिलियन की आधी से अधिक आबादी का भरण-पोषण है।

Next Story