मौसम की जानकारी

इन राज्यों में समय से पहले मानसून की एंट्री, IMD ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

Tejpal Gurera
4 July 2022 1:22 AM GMT
इन राज्यों में समय से पहले मानसून की एंट्री, IMD ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट
x
भारत में मानसून का असर अगले 6 दिनों में अच्छे से दिखाई देगा और झमाझम बारिश होगी.

Rain Latest Update India: देश के कई राज्यों में मानसून (Monsoon) ने दस्तक दे दी है और बारिश (Rain) शुरू हो गई. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक, देश के अधिकतर राज्यों में मानसून पहुंच चुका है. वहीं राजस्थान (Rajasthan) और गुजरात (Gujarat) जैसे कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहां समय से पहले मानसून ने दस्तक दे दी है और बारिश होना शुरू हो गई है. वहीं दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में अगले 6 दिनों में मानसून का असर अच्छा दिख सकता है और झमाझम बारिश हो सकती है. हालांकि बारिश के कारण तापमान (Temperature) में गिरावट आएगी और लोगों को राहत मिलेगी.

दिल्ली-एनसीआर में कैसा रहेगा मौसम?

बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में मानसून 1 जुलाई को ही दस्तक दे चुका है. आईएमडी के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर का अधिकतम तापमान आज (सोमवार को) 36 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रह सकता है. आज आसमान में बादल छाए रह सकते हैं. हल्की बारिश और आंधी तूफान की संभावना भी हैं. दिल्ली-एनसीआर में अगले 6 दिनों में मानसून गहरा हो सकता है. इसके मद्देनजर मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

6 दिन पहले ही मानसून ने दस्तक

मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, राजस्थान और गुजरात में शुक्रवार को मानसून के कारण मौसम की पहली बारिश हुई. यहां दक्षिण-पश्चिम मानसून ने तय समय से 6 दिन पहले ही दस्तक दे दी. गौरतलब है कि दक्षिण-पश्चिम मानसून की शुरुआत केरल में 1 जून की सामान्य तिथि से 3 दिन पहले 29 मई को हुई थी. आईएमडी ने बताया कि दक्षिण-पश्चिम मानसून 8 जुलाई की सामान्य तिथि से 6 दिन पहले ही शनिवार को पूरे देश में दस्तक दे चुका है.

ऑरेंज अलर्ट किया गया जारी

मौसम पूर्वानुमान के मुताबिक, अगले 4 दिनों में गुजरात के सूरत, नवसारी, सौराष्ट्र, जूनागढ़, सौराष्ट्र, बनासकांठा, साबरकांठा, डांग, वलसाड, तापी, दमन और दादरा नगर हवेली, पोरबंदर, कच्छ, अमरेली, द्वारका, गिर सोमनाथ जैसे जिलों में भारी बारिश की संभावना है. वहीं, केरल के कई हिस्सों में भारी बारिश होने के साथ ही, आईएमडी ने पांच जिलों के लिए 'ऑरेंज अलर्ट' जारी किया. आईएमडी ने इडुक्की, त्रिशूर, कोझिकोड, कन्नूर और कासरगोड जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया.

उत्तराखंड में मॉनसून के दस्तक देने के साथ ही राज्य में भूस्खलन को लेकर चिंताएं बढ़ गई हैं. पिछले एक हफ्ते में, केदारनाथ और अन्य स्थानों में भूस्खलन और बारिश में चट्टानों के खिसकने से कम से कम पांच पर्यटकों की जान गई है. हर साल खासतौर पर मानसून के दौरान उत्तराखंड को प्राकृतिक आपदाओं से जान-माल का भारी नुकसान झेलना पड़ता है. जून 2013 में केदारनाथ में आए जल प्रलय के दर्दनाक मंजर को लोग अभी तक नहीं भूल पाए हैं.

Next Story