मौसम की जानकारी

दिल्ली में बारिश से हुई शनिवार की शुरुआत, जानिए देश के मौसम का हाल

Tejpal Gurera
18 Jun 2022 2:19 AM GMT
दिल्ली में बारिश से हुई शनिवार की शुरुआत, जानिए देश के मौसम का हाल
x
Weather News: पूर्वोत्तर में भारी बारिश से जल प्रलय जैसी तस्वीरें देखने को मिलीं. वहीं मेघालय के मौसिनराम में रिकॉर्ड.

Weather Update 18 June: दिल्ली और उसके आस-पास के शहरों में शनिवार की सुबह की शुरुआत झमाझम बारिश के साथ हुई है. दिल्ली-NCR के कई इलाकों में शनिवार सुबह से रुक रुक कर बारिश हो रही है. इस बारिश का यह सिलसिला दिनभर जारी रहने के आसार हैं. इससे अधिकतम तापमान गिरेगा और गर्मी से राहत मिलेगी.

अगले चार दिन होगी झमाझम बारिश

इसके पहले बीते तीन दिन से हो रही बारिश के चलते दिल्लीवासियों को शुक्रवार सुबह भीषण गर्मी से राहत मिली और अधिकतम तापमान में चार से पांच डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई. इस वजह से दिल्ली में अधिकतर मौसम केंद्रों में तापमान करीब 37 डिग्री सेल्यियस तक ही दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण अगले चार दिनों में दिल्ली में छिटपुट से लेकर व्यापक स्तर पर बारिश होने की संभावना है.

आज के लिए यलो अलर्ट

विभाग ने तेज हवाओं के साथ बौछारें पड़ने या हल्की बारिश को लेकर शनिवार से चार दिन के लिए मौसम का 'येलो अलर्ट' जारी किया है. शनिवार को तापमान 35 डिग्री सेल्सियस तक गिरने का अनुमान है.

राजस्थान के मौसम का हाल

राजस्थान के मौसम की बात करें तो प्रदेश के पूर्वी भाग के कुछ हिस्सों में पिछले 24 घंटों के दौरान हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश दर्ज की गई है. तो वहीं, पश्चिमी भाग शुष्क बना रहा. जयपुर मौसम केन्द्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि पूर्वी राजस्थान के जयपुर, भरतपुर, कोटा संभाग के जिलों में मानसून पूर्व की गतिविधियां आगामी चार-पांच दिनों के दौरान जारी रहेंगी. उन्होंने बताया कि इस दौरान दोपहर के बाद गरज के साथ कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश व कहीं-कहीं तेज हवाएं चलने की संभावना है. इस दौरान उदयपुर संभाग के जिलों में भी कुछ स्थानों पर हल्की बारिश होने की संभावना है.

दिल्ली में कब पहुंचेगा मानसून?

पश्चिम बंगाल, उत्तरी ओडिशा और इससे सटे बांग्लादेश के कुछ हिस्सों में एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बनेगा और यह भारत-गंगा के मैदानी इलाकों में हवा के रूख को बदल देगा. IMD के मुताबिक यह चक्रवाती परिसंचरण सामान्य पूर्वी प्रवाह की शुरुआत करेगा जो उत्तर पश्चिम भारत की ओर मानसून की प्रगति के लिए महत्वपूर्ण है. मानसून एक दिन पहले या एक दिन बाद सामान्य तिथि (27 जून) के आसपास दिल्ली पहुंच जाएगा.'

इन राज्यों में हो सकती है जोरदार बारिश

देश के कई हिस्सों में प्री मॉनसून जोरदार बारिश हो रही है. मौसम विभाग के मुताबिक ओडिशा, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, पूर्वी मध्य प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, लक्षद्वीप लक्ष्यदीप में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है और केरल में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है. झारखंड में अगले 48 घंटो में मानसून के दस्तक देने की संभावना नजर आ रही है.

पूर्वोत्तर का हाल

पूर्वोत्तर में लगातार बारिश जारी रहने के कारण, मेघालय के मौसिनराम में शुक्रवार को सुबह साढ़े आठ बजे बजे समाप्त हुए 24 घंटों में 1003.6 मिलीमीटर (MM) बारिश हुई, जो जून में एक दिन में सबसे अधिक थी, जबकि पड़ोसी चेरापूंजी में 972 मिमी बारिश हुई. मौसम विभाग (IMD) ने यह जानकारी दी. त्रिपुरा में भारी बारिश के बाद जलमग्न हुई अगरतला की सड़के. मौसम विभाग अगरतला के अनुसार अगले कुछ घंटों में पश्चिम त्रिपुरा के कुछ हिस्सों में वज्रपात के साथ बारिश होने की संभावना है. असम में भी आज बारिश का पूर्वानुमान लगाया गया है.

मेघालय के चेरापूंजी में शुक्रवार सुबह 8.30 बजे तक पिछले 24 घंटे के दौरान 972 मिलीमीटर मूसलाधार बारिश दर्ज हुई, जो जून में वर्ष 1995 के बाद से सबसे अधिक है. इससे दो दिन पहले वहां 811.6 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई थी.

29 जून तक रहेगी लू से राहत

आईएमडी के अनुसार हीटवेव की स्थिति 16 जून से समाप्त हो गई है. दक्षिण-पश्चिम मानसून के मध्य और पूर्वी भारत की ओर बढ़ने के कारण अब उत्तर-पश्चिमी और मध्य भागों में अधिकतम तापमान में 5 से 10 डिग्री सेल्सियस की कमी आई है. इसी के साथ आईएमडी ने पूर्वानुमान लगाया है कि अब 29 जून तक देश के किसी भी हिस्से में किसी भी प्रकार की हीटवेव नहीं चलेगी.

Next Story