मौसम की जानकारी

Weather Report: भारत के कई हिस्सों में मूसलाधार बारिश अलर्ट, जानिये आज का मौसम अपडेट

Rakesh Gusaiana
22 May 2022 5:10 AM GMT
Weather Report: भारत के कई हिस्सों में मूसलाधार बारिश अलर्ट, जानिये आज का मौसम अपडेट
x
मौसम विभाग ने कहा कि आसमान में बादल छाए रहने और गरज के साथ शनिवार को दिल्लीवासियों को थोड़ी राहत मिली क्योंकि शहर का अधिकतम तापमान 42.4 डिग्री सेल्सियस रहा।

देश भर में लंबे समय तक लू चलने के बाद भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने 21 मई से 24 मई तक उत्तर-पश्चिम और पूर्वी भारत में बारिश की भविष्यवाणी की है, जो कि सोमवार यानी 23 मई को चरम तीव्रता तक पहुंच जाएगी। मौसम विभाग ने कहा कि आसमान में बादल छाए रहने और गरज के साथ शनिवार को दिल्लीवासियों को थोड़ी राहत मिली क्योंकि शहर का अधिकतम तापमान 42.4 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं, न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

आईएमडी ने कहा कि अगले पांच दिनों के लिए बिहार, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल और ओडिशा में अलग-अलग गरज के साथ हल्की / मध्यम वर्षा होने की संभावना है। मौसम विभाग ने यह भी कहा कि 22 से 24 मई के बीच पश्चिमी राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर धूल भरी आंधी चलने की संभावना है। विभाग ने पश्चिमी राज्य में 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाओं की भविष्यवाणी की है।

आईएमडी ने ट्वीट कर कहा, "जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में अलग-अलग जगहों पर गरज / बिजली / तेज हवाओं के साथ व्यापक रूप से हल्की / मध्यम बारिश हो सकती है।"

आपको बता दें कि केरल में कम से कम 10 जिलों में रविवार तक भारी बारिश होने की संभावना है। आईएमडी ने इसको लेकर येलो अलर्ट जारी किया है। वहीं, इडुक्की जिला प्रशासन ने अतिरिक्त पानी छोड़ने के लिए कल्लारकुट्टी और पंबला बांधों के शटर खोल दिए हैं। साथ ही तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पठानमथिट्टा, अलाप्पुझा, कोट्टायम, एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, मलप्पुरम और कोझीकोड जिले शनिवार को येलो अलर्ट पर थे, जबकि वायनाड में 22 मई को भी येलो अलर्ट था।

पूर्व में भारी बारिश ने कहर बरपाया

पिछले कुछ दिनों से बिहार और असम में मूसलाधार बारिश शुरू हो गई है, जिससे बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है। असम के 29 जिलों में 7 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं और 13 मई से अब तक कुल 11 मौतें दर्ज की गई हैं। शुक्रवार को, असम के दीमा हसाओ जिले के हाफलोंग शहर में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के कर्मियों की मदद के लिए चिनूक हेवी-लिफ्ट हेलीकॉप्टर तैनात किए गए थे ताकि क्षेत्र में बाढ़ और भूस्खलन के कारण फंसे लोगों को निकालने में मदद मिल सके।

बिहार में शुक्रवार तक आंधी-तूफान और आकाशीय बिजली गिरने से 16 जिलों के 33 लोगों की मौत हो गई। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मरने वालों के परिवारों को 4 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी मौतों पर शोक जताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, "बिहार के कई जिलों में आंधी और बिजली गिरने से हुई मौतों की संख्या के बारे में जानकर गहरा दुख हुआ। ईश्वर शोक संतप्त परिवारों को इस अपार क्षति को सहन करने की शक्ति प्रदान करें।" उन्होंने कहा, "राज्य सरकार की देखरेख में स्थानीय प्रशासन पीड़ितों के राहत और बचाव कार्य में सक्रिय रूप से लगा हुआ है।"

Next Story