मौसम की जानकारी

Weather Update: चिलचिलाती गर्मी से मिलेगी राहत, इन राज्यों में गरज के साथ मूसलाधार बारिश की संभावना

Mukesh Gusaiana
18 April 2022 3:55 AM GMT
Weather Update: चिलचिलाती गर्मी से मिलेगी राहत, इन राज्यों में गरज के साथ मूसलाधार बारिश की संभावना
x
गर्म लू के थपेड़े और चिलचिलाती धूप ने जिंदगी की रफ्तार रोक दी है, जिससे लोग पसीना-पसीना हो रहे हैं। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से लेकर पूरे उत्तरी भारत में सूर्य की तपिश लोगों की मुसीबत बनी हुई है।

नई दिल्लीः गर्म लू के थपेड़े और चिलचिलाती धूप ने जिंदगी की रफ्तार रोक दी है, जिससे लोग पसीना-पसीना हो रहे हैं। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से लेकर पूरे उत्तरी भारत में सूर्य की तपिश लोगों की मुसीबत बनी हुई है। धूप इतनी तेज कि घर से भी लोग छाता या फिर गमछा लेकर निकलना पसंद कर रहे हैं। पूर्वोत्तर राज्यों में हल्की बूंदाबादी होने से तापमान काफी नीचे गिर गया। दिल्ली एनसीआर में सुबह से ही धूप खिली हुई है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने कुछ इलाकों में भीषण गर्मी व आंधी के साथ भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है।

आईएमडी के मुताबिक, 19 अप्रैल तक उत्तर पश्चिम भारत, मध्य प्रदेश और कुछ अन्य राज्यों में लू चलने की संभावना जताई गई है। दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत में वर्षा की तीव्रता कल, 18 अप्रैल से कम होने की संभावना है। आईएमडी के अनुसार, 19, 20 और 21 अप्रैल को असम-मेघालय में भारी बारिश का दौर देखने को मिल सकता है।

अगले 5 दिनों के दौरान बंगाल की खाड़ी से लेकर भारत के उत्तरपूर्वी राज्यों तक तेज दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के प्रभाव में, गरज और बिजली के साथ भारी बारिश देखने को मिलेगी। अरुणाचल प्रदेश, असम-मेघालय और नागालैंड-मणिपुर-मिजोरम-त्रिपुरा में तेज़ हवाएं चलने की उम्मीद है।

पश्चिमी विक्षोभ के असर से जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद में भी 18 अप्रैल को गरज और बिजली गिरने के साथ बारिश होने की संभावना जताई गई है। 19 से 21 अप्रैल तक हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में ऐसे ही हालात रहेंगे।

आईएमडी के मुताबिक, पंजाब और उत्तरी राजस्थान (19-20 अप्रैल), हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश (20-21 अप्रैल) में भी भारी बारिस देखने को मिलेगी। 20 के दौरान पश्चिमी राजस्थान में और 19 और 20 अप्रैल, 2022 को पूर्वी राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर धूल भरी आंधी चलने की उम्मीद है।

आईएमडी के अनुसार कि विदर्भ से उत्तर आंतरिक कर्नाटक तक ट्रफ या हवा के बंद होने और पश्चिम मध्य और उससे सटे दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी से सटे दक्षिण आंध्र प्रदेश-उत्तरी तमिलनाडु के निचले क्षोभमंडल स्तरों में एक चक्रवाती परिसंचरण के प्रभाव में। -अगले 5 दिनों के दौरान केरल-माहे और कर्नाटक में गरज के साथ गरज और बिजली या तेज हवाओं के साथ बारिश होने की संभावना है।

Next Story